शेष विश्व के लिए अनदेखा अनजाना बेहतरीन पर्यटन-स्थल : कोस्टारीका

चन्द्रकान्त पाराशर , एडीटर-ICN हिंदी   लिमोन/कोस्टा रीका(मध्य अमेरिका) : एक बहुत सुंदर और सुरक्षित देश है कोस्टा रीका, इसलिए इसमें कोई आश्चर्य की बात नहीं है कि यह पर्यटकों विशेषकर प्रकृतिप्रेमी व शान्त जीवन यापन करने वाले प्रवासियों की पसंद के रडार पर बना ही रहता है। वैसे भूगोल के हिसाब से उत्तरी अमरीका एवं दक्षिणी अमेरिका को जोड़ने वाले केंद्रीय स्थलजलडमरु मध्य (इस्थमस)पर कोस्टा रीका देश अवस्थित है,यह उत्तरी अमेरिका का हिस्सा है लेकिन लैटिन अमरीकन सांस्कृतिक विरासत को अपने में समेटे हुए प्रतीत होता है। सांस्कृतिक विरासत…

Read More

इंसानियत की मिसाल कायम की दिल्ली की रजनी जाजोरिया ने

राणा अवधूत, ब्यूरो चीफ-ICN बिहार   पटना : आज की इस अपसंस्कृति के बढ़ते प्रभाव व नैतिकता के पतन के दौर में यदि किसी ने आपके साथ दया, मदद, परोपकार, इंसानियत, मानवता, समर्प्रण, ईमानदारी, त्याग, शील या सहायता जैसे मानवीय गुणों को प्रदर्षित करने वाला कोई कार्य करे तो स्वत: उसके लिए दिल से दुआ निकलती है। मानव जीवन में शास्त्रों में 16 गुणों को ऐसा बताया गया है जिसे ग्रहण करने के बाद मानव सामान्य से कुछ ऊपर उठ जाता है। कुछ ऐसी ही इंसानियत की मिसाल दिल्ली की…

Read More

अपनी आज़ादी को हम, हरगिज़ मिटा सकते नही…..

एज़ाज़ क़मर, एडिटर-ICN  सर पर मैला ढोने और शवो का अंतिम संस्कार करने जैसे अमानवीय कार्य करने वाले भारतीय जब अघोषित आरक्षण से बदहाल हुई अपनी आर्थिक और सामाजिक स्थिति को सुधारने के लिए मिले संवैधानिक आरक्षण को बचाने के लिए सड़को पर आते है तब उन्हे असामाजिक तत्व कहकर पेड मीडिया के माध्यम से बदनाम किया जाता है। जल-जंगल-भूमि के संविधानिक अधिकार की रक्षा के लिए संघर्षरत आदिवासियो को तानाशाही राजनीतिज्ञो ने आतंकवादी बना दिया फिर उसकी आड़ मे ब्यूरोक्रेसी द्वारा आदिवासियो पर किए गए अत्याचारो ने ऐसी इबारत…

Read More

तो क्या यह बनेंगे बिग बॉस सीजन 14 के विजेता ?

चन्द्रकान्त पाराशर, एडिटर, ICN हिन्दी नई दिल्ली स्थित प्रसिद्ध भारतीय विद्या भवन से हस्तरेखा व टैरो कार्ड अध्ययन पाठ्यक्रम में डिप्लोमा प्राप्त सुश्री  प्रियम को  भारत, ब्रिटेन और आयरलैंड में आयोजित होलिस्टिक व साईकिक फ़ेस्टिवल्स में टैरो कार्ड रीडिंग करने में अच्छाख़ासा अंतरराष्ट्रीय एक्स्पोज़र प्राप्त है। शिमला,16फ़रवरी :- पिछले 20हफ़्तों से कलर चैनल पर प्रसारित बिग बॉस 14 शो के दौरान प्रतिभागियों के बीच अब तक काफी नोक-झोंक, मानसिक उतार-चढ़ाव और बहुत मस्ती तो हुई। और यह सीजन अभी खत्म नहीं हुआ है, बल्कि सबसे मजेदार वक्त तो अब आया…

Read More

रामपुर सहसवान घराने की शान महान संगीतकार पदम विभूषण ग़ुलाम मुस्तुफा खान को खिराज-ए अक़ीदत

मोहम्मद सलीम खान– (एसोसिएट एडिटर) आई सी एन  “मौत उसकी है ज़माना करे जिसका अफसोस         यूँ तो दुनिया में सभी आते हैं मरने के लिए।” सहसवान/बदायूं : इतवार का दिन शास्त्रीय संगीत जगत तथा देश व विदेश में रह रहे करोड़ों संगीत प्रेमियों के लिए बहुत ही दुख भरा था। शास्त्रीय संगीत के दिग्गज संगीतकार पदम विभूषण गुलाम मुस्तफा खान ने 17 जनवरी दिन इतवार को दुनिया से अलविदा कह दिया। पदम विभूषण गुलाम मुस्तफा खान ने 89 साल की उम्र में अपने आवास पर अंतिम…

Read More

धुएँ में स्वाहा होती जिंदगियां।

डॉ अनुरूद्ध वर्मा, एडीटर-ICN  तम्बाकू एवँ धूम्रपान से होने वाली बीमारियों की गंभीरता का अनुमान विश्व स्वास्थ्य संगठन के इन आंकड़ों से लगाया जा सकता है कि दुनिया में प्रतिवर्ष लगभग 80 लाख लोग तम्बाकू जनित बीमारियों के कारण असमय मौत का शिकार हो जातें हैं तथा भारत मे यह आंकड़ा 10 लाख से ऊपर है। वर्तमान समय में तम्बाकू एवँ धूम्रपान  की लत  पूरे विश्व में जनस्वास्थ्य के लिए गंभीर समस्या बनी हुई है और पूरा चिकित्सा जगत समस्या से चिंतित है कि किस प्रकार  इससे मुक्ति पाया जाए।तम्बाकू…

Read More

कोरोना जंग के वीर योद्धा

मोहम्मद सलीम खान, एसोसिएट एडिटर-आईसीएन सहसवान/ बदायूँ : इस समय भारत कोरोना नामक  दानव रूपी महामारी से जूझ रहा है। केवल भारत ही नहीं बल्कि विश्व के अन्य देश भी इस महामारी की गिरफ्त में हैं। भारत देश में आज दिनांक  27 अगस्त 2020  तक लगभग  33 लाख 15 हज़ार  कोरोना संक्रमित मरीज हो चुके हैं ओर उनमे से लगभग  25 लाख 23 हज़ार मरीज़ ठीक भी हो गए  हैं तथा लगभग 60,000 लोगों की मृत्यु भी हो चुकी है। भय और आतंक का ऐसा माहौल शायद ही पहले किसी…

Read More

प्राचीन गुरु व शिष्य, बनाम आधुनिक अध्यापक व विद्यार्थी

मोहम्मद सलीम खान, एसोसिएट एडिटर-आईसीएन सहसवान/बदायूँ । ईश्वर ने इंसान को दुनिया में रहने के लिए इंसान के रिश्ते और उसके रिश्तेदार बनाए हैं। प्रकृति की सबसे अनमोल धरोहर माता-पिता बनाए भाई बहन अन्य  रिश्तो की सौगात हमारी झोली में डाली। किसी भी व्यक्ति की कामयाबी पर उसके माता-पिता भाई-बहन वह अन्य  सगे संबंधी बहुत ज्यादा प्रसन्न होते हैं मगर इन रिश्तों के बीच में एक ऐसा रिश्ता भी है जो रिश्ता खूनी  व कुदरती  तो नहीं मगर प्रेम स्नेह व वफा की कसौटी पर सदियों से खरा उतरता आ…

Read More

“इंडो मुस्लिम-ज्यूज़ फाउंडेशन” (Indo Muslim-Jews Foundation) की स्थापना के द्वारा कब पैगंबर हज़रत याकूब की औलादे एक झंडे (बैनर) के नीचे इकट्ठा होगी?

एज़ाज़ क़मर, डिप्टी एडिटर-ICN When will the descendants of Prophet Jacob gather under a flag (banner) by the establishment of the “Indo Muslim-Jews Foundation”? नई दिल्ली। मेरे जन्म के समय पिताजी मौजूद नही थे क्योकि मेरा जन्म नाना के घर हुआ था और वह स्थान मेरी दादी के घर से लगभग 70 किलोमीटर दूर था,लगभग 6 महीने के बाद मेरे पिताजी मुझे और मेरी माता को लेकर अपने घर पहुंचे तो मेरी दादी ने सबसे पहला प्रश्न किया कि हमारे यहां आठवे दिन ख़तना (Circumcize) होती है,और आपने क्यो इतनी…

Read More

स्वतंत्रता इतिहास के भूले हुए पन्नों में दर्ज एक अनूठी वीरांगना : गुलाब कौर

अमिताभ दीक्षित, एडिटर-ICN U.P. गुलाब कौर : इतिहास में भुला दी गयी वो महिला जिसने अंग्रेजों से लड़ने के लिए अपने पति को छोड़ दिया और एक सुरक्षित जीवन को तिलांजलि दे कर स्वतंत्रता संग्राम में कूद पड़ी. कई बार, इतिहास अपनी उन अनन्य नायिकाओं को भूल जाता है, उनके चेहरे भुला दिए जाते हैं, और उनकी बहादुरी की गाथा कोई याद नहीं करता जिनके असाधारण साहस और बलिदान को देश के इतिहास लिखते समय निश्चित रूप से को स्मरण रक्खा जाना चाहिए और उन्हें एक सम्मान जनक स्थान देना…

Read More