छपरा के कम्युनिटी रेडियो स्टेशन रेडियो मयूर की शानदार पहल , “छपरा फाइट्स अगेंस्ट  कोरोना” मुहिम के  माध्यम से लोगों में बढ़ा रहा आत्मविश्वास

छपरा : कोरोना के बिगड़ते हालात को देखते हुए राज्य सरकार ने एक बार फ़िर लॉकडाउन लगा दिया उसके बाद भी राज्य में स्वास्थ्य व्यवस्था दिन-ब-दिन बद्दतर होती जा रही है । इस वज़ह से लोगों के मन मे नकारात्मक प्रभाव ज़्यादा हावी हो गया है। जो कोरोना से भी ज़्यादा ख़तरनाक है। कोरोना को लेकर पहले से ही अफ़वाहों ने लोगों के दिलों में घर बना चुका है। दिल्ली एम्स के डायरेक्टर डॉ गुलेरिया ने भी इस बात की पुष्टि की है कि कोरोना से ज़्यादा ख़तरनाक उसका हौआ…

Read More

कारोना जैसी वैश्विक आपदा की इस मुश्किल घड़ी मे स्वयं सेवक गणों द्वारा एक सकारात्मक कोशिश

चन्द्रकान्त पाराशर, एडिटर, ICN हिन्दी शिमला हिल्स शिमला : संक्रामक करोना जैसी वैश्विक आपदा से उत्पन्न इस मुश्किल घड़ी में पूरा विश्व इसके संक्रमण की चपेट में आ गया है विशेषकर पिछले माह से आई दूसरी घातक लहर में सब कुछ आर्थिक ,सामाजिक ताना-बाना छिन्न-भिन्न होता चला जा रहा है ।करोना के प्रकोप से दिल्ली व इसका एनसीआर क्षेत्र गौतम बुद्ध नगर अर्थात नोएडा में इसके संक्रमण बढ़ने के साथ-साथ उत्पन्न इस विपदा की घड़ी में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के गणों ने कमान को व्यवस्थित तरीके से संभालने की कोशिश…

Read More

एसजेवीएन कारपोरेट मुख्‍यालय शिमला में कोविड टीकाकरण अभियान शुरू

चन्द्रकान्त पाराशर, एडिटर, ICN हिन्दी शिमला हिल्स शिमला :  एसजेवीएन द्वारा दिनांक 20 एवं 21 अप्रैल,2021 को शिमला में अपने कारपोरेट मुख्यालय में कोविड टीकाकरण अभियान का आयोजन किया जा रहा है। निगम के कर्मचारियों एवं उनके आश्रितों, सुरक्षा कर्मियों एवं ठेकेदारों द्वारा तैनात कार्मिकों को कोविड-19 वैक्‍सीन लगाई जा रही है। अभियान के दौरान एसजेवीएन के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक, श्री नन्‍द लाल शर्मा ने आज कोविड वैक्‍सीन की दूसरी डोज़ प्राप्‍त की। उनके साथ लगभग 150 व्‍यक्तियों ने वैक्‍सीन की पहली/दूसरी डोज प्राप्‍त की। एसजेवीएन में 45 वर्ष…

Read More

“वैश्विक हिन्दी की चुनौतियाँ एवम् उनके भाषा वैज्ञानिक समाधान “विषय पर केन्द्रित अंतरराष्ट्रीय वेब संगोष्ठी का सफल आयोजन

चन्द्रकान्त पाराशर, एडिटर, ICN हिन्दी शिमला हिल्स : भारत संघ की सम्पर्क एवं राजभाषा हिन्दी के संबर्धन में रत दूर शिक्षा निदेशालय, *महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय, वर्धा, महाराष्ट्र, विश्व हिंदी सचिवालय, मॉरीशस, भारतीय उच्चायोग, त्रिनिदाद एवं टोबागो, न्यू मीडिया सृजन संसार ग्लोबल फाउंडेशन एवं सृजन ऑस्ट्रेलिया अंतरराष्ट्रीय ई-पत्रिका द्वारा वैश्विक हिंदी की चुनौतियाँ एवं उनके भाषा वैज्ञानिक समाधान” विषय पर दिनांक 17/04/2021 को भारतीय समय शाम 8.00 बजे अंतरराष्ट्रीय ई संगोष्ठी का सफल आयोजन हुआ । संगोष्ठी की बीज वक्तव्य डॉ. वरुण कुमार, निदेशक, केंद्रीय हिन्दी प्रशिक्षण संस्थान, राजभाषा…

Read More

एसटीपीएल की 1320 मेगावाट की बक्सर थर्मल पावर परियोजना के लिए आवधिक ऋण का वित्तीय क्‍लोजर करार

चन्द्रकान्त पाराशर, एडिटर, ICN हिन्दी शिमला : 17 मार्च, 2021 बिहार के बक्सर जिले के चौसा में एसजेवीएन लिमिटेड की पूर्ण स्‍वामित्‍व वाली कंपनी एसजेवीएन थर्मल प्रा. लिमिटेड द्वारा निष्‍पादित 1320 मेगावाट की बक्सर थर्मल पावर परियोजना के लिए 8448.46 करोड़ रुपए के आवधिक ऋण के लिए एसटीपीएल और कंसोर्टियम ऑफ लेंडिंग बैंक/वित्‍तीय संस्‍थान(एफआई) के मध्‍य पटना में एक समारोह के दौरान हस्ताक्षर किए गए। एसजेवीएन के अध्‍यक्ष एवं प्रबंध निदेशक, श्री नंद लाल शर्मा की गरिमामयी उपस्थिति में संबंधित पार्टियों के मध्‍य ऋण समझौता करार किया गया। वित्तीय क्‍लोजर…

Read More

एसजेवीएन द्वारा शिमला में रक्‍तदान कैंप के आयोजन के दौरान 140 यूनिटस रक्‍त एकत्रि‍त किया गया

चन्द्रकान्त पाराशर, एडिटर, ICN हिन्दी शिमला : एसजेवीएन के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक, श्री नन्‍द लाल शर्मा द्वारा रक्‍तदान कैंप का कारपोरेट मुख्यालय, शिमला में उद्घाटन किया गया। रक्तदान कैंप का उद्घाटन निदेशक (कार्मिक) श्रीमती गीता कपूर, निदेशक (सिविल) एस.पी. बंसल तथा निदेशक (विद्युत), श्री सुशील शर्मा की प्रेरणामई उपस्थिति में किया गया। एसजेवीएन सतलुजश्री लेडीज क्लब की चीफ पैटर्न श्रीमती ललिता शर्मा तथा क्लब की अध्यक्षा, श्रीमती रेखा कौशल क्‍लब के अन्‍य सदस्‍यों तथा पदाधिकारियों के साथ इस अवसर पर उपस्थित थीं। इस कैंप का आयोजन इंदिरा गांधी मेडिकल…

Read More

एसजेवीएन द्वारा अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर पद्मश्री डॉ. अरुणिमा सिन्हा की प्रेरणास्‍पद वार्ता का आयोजन

चन्द्रकान्त पाराशर, एडिटर, ICN हिन्दी शिमला: वैश्विक विकास में महिलाओं की बढ़ती हिस्सेदारी का जश्न मनाने और लैंगिक रुढि़यों तथा असमानता के खिलाफ उनके संघर्ष का सम्मान करने के लिए एसजेवीएन द्वारा अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस 2021 मनाया गया। कार्यक्रम का उद्घाटन निगम के निदेशक (कार्मिक) श्रीमती गीता कपूर द्वारा डी.पी.कौशल, मुख्‍य महाप्रबंधक(मा.सं) एवं एसजेवीएन के अन्‍य वरिष्‍ठ अधिकारियों की गरिमामयी उपस्थिति में किया गया । इस अवसर पर महिला कर्मचारियों तथा सतलुज श्री (एसजेवीएन ऑफिसर लेडीज क्लब) के सदस्यों के लिए पदमश्री पुरस्कार विजेता ख्यातिप्राप्त प्रेरणास्पद वक्ता तथा पर्वतारोही डॉक्टर…

Read More

उर्दू शायरी में ‘चेहरा’ : 4

तरुण प्रकाश श्रीवास्तव, सीनियर एग्जीक्यूटिव एडीटर-ICN ग्रुप  कितना ज़रूरी होता है हर एक के लिये एक अदद चेहरा यानी सूरत यानी शक्ल यानी रुख़। कभी- कभी सोचता हूँ कि अगर यह दुनिया ‘बेचेहरा’ होती तो क्या होता। इस बेचेहरा दुनिया में कौन किसको पहचानता और कौन किसको याद रखता। भला बिना पहचान की वह दुनिया कैसी होती। कितनी दुर्घटनाएं होतीं, कितने हादसे होते। सवेरे कोई किसी के साथ होता तो शाम को किसी के साथ। सिलीब्रटीज़ के बड़े-बड़े पोस्टर्स में आखिर क्या दिखाया जाता? पुलिस भला किसकी रपट लिखती और…

Read More

उत्कृष्ट सेवाओं व कुशल नेतृत्व हेतु नन्द लाल शर्मा, अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक, एसजेवीएन को इंडियन कंक्रीट संस्थान (आईसीआई) द्वारा लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित किया गया

चन्द्रकान्त पाराशर, एडिटर, ICN हिन्दी शिमला, 20 फरवरी, 2021 एसजेवीएन के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक, श्री नन्द लाल शर्मा को इंडियन कंक्रीट संस्थान (आईसीआई) द्वारा लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित किया गया है। यह पुरस्कार आईसीआई द्वारा कंक्रीट डे तथा निर्माण उत्कृष्टता अवार्ड 2020 पर आयोजित एक वर्चुअल समारोह के दौरान प्रदान किया गया।नन्द लाल शर्मा, एसजेवीएन लिमिटेड, जो कि एक शेड्यूल ‘ए’ मिनी रत्न सार्वजनिक उपक्रम है, का अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक के रूप में नेतृत्व कर रहे हैं। नन्द लाल शर्मा के गतिशील नेतृत्व के तहत एसजेवीएन भारत…

Read More

उर्दू शायरी में ‘चेहरा’ : 3

तरुण प्रकाश श्रीवास्तव, सीनियर एग्जीक्यूटिव एडीटर-ICN ग्रुप  कितना ज़रूरी होता है हर एक के लिये एक अदद चेहरा यानी सूरत यानी शक्ल यानी रुख़। कभी- कभी सोचता हूँ कि अगर यह दुनिया ‘बेचेहरा’ होती तो क्या होता। इस बेचेहरा दुनिया में कौन किसको पहचानता और कौन किसको याद रखता। भला बिना पहचान की वह दुनिया कैसी होती। कितनी दुर्घटनाएं होतीं, कितने हादसे होते। सवेरे कोई किसी के साथ होता तो शाम को किसी के साथ। सिलीब्रटीज़ के बड़े-बड़े पोस्टर्स में आखिर क्या दिखाया जाता? पुलिस भला किसकी रपट लिखती और…

Read More