‘बुक लैंड’ बन रही है ‘चंबल घाटी’

चंबल संग्रहालय की बौद्धिक संपदा में और होगा इजाफा चौथे स्थापना दिवस पर लिया गया संकल्प हर महीने पुस्तक प्रकाशन का लक्ष्य राष्ट्रवादी पत्रकारिता के अग्रदूत को किया गया याद इटावाः चंबल संग्रहालय के चौथे स्थापना दिवस और आजादी का अमृत काल में सुविख्यात लेखक, राष्ट्रवादी पत्रकारिता के अग्रदूत, आजादी आंदोलन के महान लड़ाका, सांप्रदायिक सद्भाव के प्रबल समर्थक रहे कर्मवीर पं. सुंदरलाल को जन्म दिवस पर शिद्दत से याद किया गया। वक्ताओं ने कहा कि पंडित जी इतिहासकार, बहुभाषाविद और दुनिया के तमाम धर्मों के व्याख्याकार थे। पद, पैसा…

Read More

दि हाफ वर्ल्ड : तलाश जड़ों की

लखनऊ, दिनांक 11.09.2022. : क्या सृष्टि ने नर और नारी को रचते समय नारी को कुछ कम दिया है? क्या प्रकृति ने दोनों के मध्य संरचनात्मक बंदरबाँट की है? क्या यह विभेद धार्मिक है, या यह ऐतिहासिक है या यह अंतर राजनीतिक है? यह मानवीय प्रवृत्ति है अथवा कोई सोचा समझा षड्यंत्र? जब हम समाज और नारी का कोई समीकरण समझने का प्रयास करते हैं तो अधिकांशतः ढाल पुरुष की ओर सरकती हुई ही क्यों प्रतीत होती है? ये ढेर सारे प्रश्न एक ऐसे मंच की रचना अनायास ही करते…

Read More

के. आसिफ चंबल इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल: चंबल में आके तो देखो, सांस्कृतिक हलचल का केन्द्र बना फिल्म समारोह

इटावा : विश्व सिनेमा को मुगले आजम जैसी ऐतिहासिक फिल्म देने वाले महान फिल्म निर्देशक के. आसिफ की स्मृति में ‘के.आसिफ चंबल इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल’ के 6वें संस्करण सांस्कृतिक हलचल का केन्द्र बना। जिसमें देश और दुनिया की तमाम प्रशंसित फिल्मों के प्रदर्शन के साथ ही पहले दिन कई रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम भी हुए। इटावा के पंचायत राज राजकीय महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय के सभागार में फिल्म फेस्टिवल का उद्घाटन चंबल संभाग के पुरातत्त्व अधिकारी डॉ. अशोक शर्मा, प्रसिद्ध दस्तावेजी छायाकार सुनील दत्ता, सिनेमेटोग्राफर शारिक हैदर नकवी, फिल्म निर्देशक उमेश गोन्हजे,…

Read More

6वें चंबल इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल का समापन, देश-विदेश की कई फिल्मों को दिए गए अवार्ड

इटावा : दो दिवसीय के.आसिफ चंबल इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल का रविवार को समापन हो गया। पंचायत राज राजकीय महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय सभागार में हुए इस फिल्म फेस्टिवल में दो दिनों में देश-विदेश की तमाम फिल्मों को दिखाया गया। फिल्म निर्माण पर एक वर्कशॉप भी हुई और सांस्कृतिक कार्यक्रम भी हुए।समापन के मौके पर के.आसिफ चंबल इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ज्यूरी ने यहां दिखाई फिल्मों में से चुनी गई फिल्मों को अवार्ड दिए। फीचर फिल्म कैटेगरी में बेस्ट भारतीय फीचर फिल्म का अवार्ड नीलेश उपाध्याय की फिल्म ‘बन्नी’ को मिला जबकि इंटरनेशनल…

Read More

इटावा में के.आसिफ चंबल इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल का भव्य उद्घाटन

इटावा: विश्व सिनेमा को मुगले आजम जैसी ऐतिहासिक फिल्म देने वाले महान फिल्म निर्देशक के.आसिफ की स्मृति में शनिवार को ‘के.आसिफ चंबल इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल’ के 6वें संस्करण का भव्य उद्घाटन हुआ। देश और दुनिया की तमाम प्रशंसित फिल्मों के प्रदर्शन के साथ ही पहले दिन कई रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम भी हुए। इटावा के पंचायत राज राजकीय महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय के सभागार में फिल्म फेस्टिवल का उद्धाटन नगरपालिका परिषद इटावा की अध्यक्ष नौशाबा फुरकान, चंबल संभाग के पुरातत्त्व अधिकारी डॉ. अशोक शर्मा, छायाकार सुनील दत्ता, सिनेमेटोग्राफर शारिक हैदर नकवी, फिल्म…

Read More

के. आसिफ चंबल इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल: ‘चंबल में आके तो देखो’ है स्लोगन। दो दिवसीय सिनेमा के कुंभ में होगा दिग्गजों का जमावड़ा।

– चंबल में सिनेमा और पर्यटन को बढ़ावा देना मकसद – तीन सितम्बर को होगा उद्घाटन समारोह इटावाः महान फिल्म निर्देशक के. आसिफ की स्मृति में आयोजित होने वाले चंबल इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल के छठे वर्ष की थीम ‘सिनेमा और पर्यटन’ रखा गया है। चंबल क्षेत्र में पर्यटन को बढ़ावा देने के मकसद से इस बार भी के. आसिफ चंबल इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल विश्व के फिल्मकारों और सिने-प्रेमियों के बीच एक सेतु बन रहा है। आगमी 3 और 4 सितंबर को एसडी फील्ड, इटावा स्थित पंचायती राज राजकीय महिला स्नातकोत्तर…

Read More

राष्ट्र-वंदन की अनूठी काव्यंजलि “भारत काव्य पीयूष”का विमोचन सम्पन्न

चन्द्रकान्त पाराशर , एडीटर-ICN हिंदी सर्वविदित है कि हमारा देश भारत वर्तमान में अपनी स्वाधीनता की 75वीं वर्षगाँठ पर अमृत महोत्सव मना रहा है । इस पुनीत अवसर पर भारतीय कवियों द्वारा रचित राष्ट्र-वंदन के अनूठे दस्तावेज के रूप में “भारत काव्य पीयूष“ कविता-संग्रह को 15अगस्त की पूर्व संध्या पर आभासी ज़ूम-माध्यम से राष्ट्र के नाम समर्पित किया गया । यू.एस.ए. से माया बंसल द्वारा माँ सरस्वती-वन्दन से कार्यक्रम का शुभारम्भ हुआ । “प्रवासी भारतवंशी अपने देश, संस्कृति व रहवासियों के प्रति सदैव आत्मिक निष्ठा के साथ जुड़ने में आत्मिक…

Read More

नमन :15 अगस्त-आज़ादी पर्व पर

अमिताभ दीक्षित, एडिटर-ICN U.P. करें हम उनको आज नमन करें हम उनको आज नमन जिनकी आँखों में जलती थी स्वाभिमान की ज्वाला जिनके हाथ सदा जपते थे आज़ादी की माला संघर्षों की राह तनिक न जिन्हें कर सकी विचलित हो स्वतंत्र यह देश बने सिरमौर विश्व में अतुलित जिन्होंने पाला यही सपन करें हम उनको आज नमन स्मुतियों के तार छिड़ गए चला चली की बेला जीवन की घिरती संध्या में ये मन बहुत अकेला याद याद कर लिखता जाऊं बलिदानों की गाथा खड़े हुए बलिवेदी पर ऊंचा था जिनका…

Read More

मेरा हिन्दोस्तां प्यारा

सुहैल काकोरवी, लिटरेरी एडिटर-ICN ग्रुप  ये निष्ठा का समंदर है मेरा हिन्दोस्तां प्यारा हर इक पहलु से सुंदर है मेरा हिन्दोस्तां प्यारा It is ocean of sincerity-My lovely India From every angle beauty- My lovely India छितिज़ पर कल्पना के इसकी आभा उजाले हैं ये छाया है मेरे मन पर मेरा हिन्दोस्तान प्यारा Upon the surface of my imagination its luster It prevails my heart its splendor-My lovely India यहाँ जारी दिलों से एकता के मीठे चश्मे हैं हसींतर ऐसा मंज़र है मेरा हिन्दोस्तां प्यारा Flows here the wellspring of…

Read More

“भारत काव्य पीयूष” कवियों द्वारा राष्ट्र-वंदन का अनूठा दस्तावेज

चन्द्रकान्त पाराशर , एडीटर-ICN हिंदी Lausanne(स्विटज़रलैंड) : 10अगस्त 2022 : सर्वविदित है कि हमारा देश भारत वर्तमान में अपनी स्वाधीनता की 75वीं वर्षगाँठ पर अमृत महोत्सव मना रहा है । इस पुनीत अवसर पर भारतीय कवियों द्वारा रचित राष्ट्र-वंदन के अनूठे दस्तावेज के रूप में “भारत काव्य पीयूष“ कविता-संग्रह को 15अगस्त की पूर्व संध्या पर  राष्ट्र के नाम समर्पित किया जाएगा । स्वाधीनता के अमृत-महोत्सव  में  “भारत काव्य पीयूष” पुस्तक की अवधारणा व उसे मूर्त रूप प्रदान करने में वैश्विक हिंदी संस्थान, ह्यूस्टन, अमेरिका के अध्यक्ष डा ओमप्रकाश गुप्ता व उनकी प्रबुद्ध…

Read More