6वें चंबल इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल का समापन, देश-विदेश की कई फिल्मों को दिए गए अवार्ड

इटावा : दो दिवसीय के.आसिफ चंबल इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल का रविवार को समापन हो गया। पंचायत राज राजकीय महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय सभागार में हुए इस फिल्म फेस्टिवल में दो दिनों में देश-विदेश की तमाम फिल्मों को दिखाया गया। फिल्म निर्माण पर एक वर्कशॉप भी हुई और सांस्कृतिक कार्यक्रम भी हुए।समापन के मौके पर के.आसिफ चंबल इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ज्यूरी ने यहां दिखाई फिल्मों में से चुनी गई फिल्मों को अवार्ड दिए। फीचर फिल्म कैटेगरी में बेस्ट भारतीय फीचर फिल्म का अवार्ड नीलेश उपाध्याय की फिल्म ‘बन्नी’ को मिला जबकि इंटरनेशनल…

Read More

इटावा में के.आसिफ चंबल इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल का भव्य उद्घाटन

इटावा: विश्व सिनेमा को मुगले आजम जैसी ऐतिहासिक फिल्म देने वाले महान फिल्म निर्देशक के.आसिफ की स्मृति में शनिवार को ‘के.आसिफ चंबल इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल’ के 6वें संस्करण का भव्य उद्घाटन हुआ। देश और दुनिया की तमाम प्रशंसित फिल्मों के प्रदर्शन के साथ ही पहले दिन कई रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम भी हुए। इटावा के पंचायत राज राजकीय महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय के सभागार में फिल्म फेस्टिवल का उद्धाटन नगरपालिका परिषद इटावा की अध्यक्ष नौशाबा फुरकान, चंबल संभाग के पुरातत्त्व अधिकारी डॉ. अशोक शर्मा, छायाकार सुनील दत्ता, सिनेमेटोग्राफर शारिक हैदर नकवी, फिल्म…

Read More

आई.सी.एन. : बहादुरपुर, सीतापुर में ग्रामीण उद्यमिता की बयार

बहादुरपुर, सीतापुर|दिनांक : 24.07.2022. : हमारे देश ने अनेकों क्रांतियों को जन्म लेते व सफलता में परिवर्तित होते देखा है। अनेकों बार समय की पुकार पर देश का युवा रक्त उफ़न कर खड़ा हुआ है और उसने अलग-अलग तरीकों से अपने-अपने इतिहास रचे हैं। आई सी एन मीडिया ग्रुप ने वर्तमान युग की पुकार को सुना और देश के आर्थिक स्वास्थ्य और सर्वांगीण विकास के लिये अपने ‘ग्रामीण उद्यमिता’ व नारी सशक्तीकरण हेतु ‘वीर नारी’ के मिशन के अंतर्गत राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय पर अनेक स्थानों के पश्चात भारत के उत्तर…

Read More

आई.सी.एन. : रजौली, बाराबंकी में ग्रामीण उद्यमिता उत्सव

ग्रामीण इलाके में सिमटा रजौली गाँव अचानक ही तब क्षेत्र की ‘ब्रेकिंग न्यूज़’ बन गया जब अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अंग्रेज़ी भाषा के माध्यम से 182 देशों व हिंदी भाषा के माध्यम से 81 देशों में मौजूद आई सी एन मीडिया ग्रुप ने इस गाँव व निकटवर्ती क्षेत्रों के भविष्‍य में ‘ग्रामीण उद्यमिता व आत्मनिर्भरता’ के नये सबक की इबारत लिखी।  रजौली, बाराबंकी। 17.07.2022. : ग्रामीण उद्यमिता ही हमारे देश के सर्वांगीण विकास का मूल मंत्र है। जब देश-दुनिया के लगभग सारे मीडिया हाउसेज़ बाज़ारवाद व भीड़तंत्र के इर्द-गिर्द अपनी टी.आर.पी.…

Read More

एक कदम और : चांदनी में काव्य स्नान

लखनऊ/26.12.2021 : सुधियों की चांदनी में जी भर काव्य-स्नान। अवसर था  स्मृति शेष गीतकार निर्मलेंदु शुक्ल की रचनाओं की उनके मरणोपरांत प्रकाशित कृति ‘सुधियों की चांदनी’ का लोकार्पण व कवि के व्यक्तित्व व कृतित्व पर परिचर्चा का। ‘आई सी एन मीडिया ग्रुप’ (आई सी एन) व उसकी सहयोगी संस्था ‘स्कालर इंस्टीट्यूट अॉफ मीडिया स्टडीज़’ (सिम्स) ने साहित्य, संस्कृति व भारतीय जीवन की सकारात्मकता के प्रति इसी विश्वास के पुनर्जागरण हेतु संयुक्त रूप से सकारात्मक इवेंट्स की एक श्रृंखला ‘एक कदम और’ (वन स्टेप मोर) प्रारंभ की जिसके तृतीय कदम के…

Read More

एक कदम और : ‘एक दोपहर सितारों भरी’

लखनऊ/04.12.2021 : लगभग दो वर्षों से निरंतर वैश्विक महामारी के हिम में कहीं गहरे नीम बेहोशी से जूझती ज़िंदगी अब पुनः कसमसाने लगी है और ज़िंदगी में जीवित होने के लक्षण फिर दिखाई देने लगे हैं। विश्व को यह विश्वास दिलाने की आवश्यकता है कि वह गंभीर व अविश्वसनीय क्षति के बावजूद सांसे ले रहा है और अभी तक ज़िंदा है। बहुत ज़रूरी है कि हम अपनी धड़कनों के संगीत को फिर सुने, शिराओं मे बहते खून की रफ़्तार को फिर महसूस करें और अपने मस्तिष्क को गुफ़्तगू करके फिर…

Read More

आई सी एन व सिम्स का संयुक्त ‘एक कदम और’

लखनऊ/16.10.2021 : दो वर्ष से निरंतर वैश्विक महामारी से जूझते विश्व को यह विश्वास दिलाने की आवश्यकता है कि वह गंभीर व अविश्वसनीय क्षति के बावजूद सांसे ले रहा है और अभी तक ज़िंदा है। बहुत ज़रूरी है कि हम अपनी धड़कनों के संगीत को फिर सुने, शिराओं मे बहते खून की रफ़्तार को फिर महसूस करें और अपने मस्तिष्क को गुफ़्तगू करके फिर बतायें कि यह सच है कि हमने बहुत कुछ खो दिया है लेकिन यह भी सच है कि अभी भी हमारे पास बहुत कुछ शेष है।…

Read More

आई सी एन : बुंदेलखंडी धरती पर हरित क्रांति के बीज

बांदा, 29.11.2020.इतिहास ने जिस बुंदेलखंड की धरती पर समय-समय पर आल्हा ऊदल व रानी लक्ष्मी बाई के रूप में शहीदों की फसल उगाई है, वह हरियाली के उस प्रजनन सुख का उस भाँति कभी भी अनुभव नहीं कर पाई जैसा सुख उसके पड़ोसी प्रांतों ने किया। चेहरे पर शत्रुओं को आतंकित कर देने वाले अतुलित तेज और विशाल भुजाओं में शत्रु दमन हेतु असीम बल समेटे बुंदेलखंड के भूख और अभाव से धँसे हुये पेट की ओर न कभी केंद्रीय सत्ता की दृष्टि गयी और न ही कभी प्रादेशिक सरकार…

Read More

आई.सी.एन.का ग्रामीण क्षेत्रों के सामाजिक व आर्थिक उत्थान का यज्ञ प्रारंभ

लखनऊ : रोटी से साहित्य की गंध और साहित्य से रोटी की खुशबू, यही एक सुसंस्कृत, सुगठित व संतुलित समाज की पहली पहचान हेै। आई.सी.एन. मात्र एक वैचारिक क्रांति ही नहीं है बल्कि यह वह सामाजिक प्रयोगशाला है जहाँ सामाज के सर्वांगीण विकास के संदर्भ में अद्भुत परिणामों की अनंत संभावनाएं उपस्थित हैं। सकारात्मक व ज़िम्मेदार पत्रकारिता में वैश्विक स्तर पर अपने आप में एकमात्र अनूठी पहचान रखने वाली आई.सी.एन. यह भी मानती है कि अच्छे से अच्छा विचार भी मात्र शब्दों से रचा सम्मोहन मात्र है जब तक वह…

Read More

राज्यसभा सदस्य राजनाथ सिंह सूर्य का निधन, मुख्यमंत्री योगी ने जताया शोक

लखनऊ।भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के पूर्व राज्यसभा सदस्य व वरिष्ठ स्तंभकार राजनाथ नाथ सिंह ‘सूर्य’ का लखनऊ में निधन हो गया। ‘सूर्य’ का पार्थिव शरीर किंग जार्ज मेडिकल विश्वविद्यालय, लखनऊ में रखा जाएगा। सूर्य ने मेडिकल कालेज को अपना देहदान किया था। उनके निधन की सूचना पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ ही डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा, चिकित्सा शिक्षा मंत्री आशुतोष टंडन, लखनऊ की मेयर संयुक्ता भाटिया के साथ वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी तथा नेता उनके आवास पर पहुंचे और उनको अंतिम विदाई दी। राजनाथ सिंह सूर्य के निधन की सूचना…

Read More