सिटी मोन्टेसरी स्कूल द्वारा ‘शिक्षक दिवस समारोह’ का ऑनलाइन आयोजन किया गया

सीएमएस के शिक्षकों, छात्रों व अभिवावकों ने ऑनलाइन इस समारोह में हिस्सा लिया सीएमएस के देश-विदेश में कार्यरत पूर्व छात्रों ने भी हिस्सा लिए और अपनी ख़ुशी जाहिर की लखनऊ, 5 सितम्बर: ‘शिक्षक दिवस’ के उपलक्ष्य में सिटी मोन्टेसरी स्कूल द्वारा ‘शिक्षक दिवस समारोह’ का ऑनलाइन आयोजन बड़े ही भव्यता के साथ किया गया।मुख्य अतिथि के रूप में  सुरेश खन्ना, कैबिनेट मंत्री, वित्त, चिकित्सा शिक्षा एवं संसदीय कार्य एवं भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता व सीएमएस के पूर्व छात्र सुधांशु त्रिवेदी इस अवसर पर मौजूद थे, जबकि अनिल मिश्रा,…

Read More

आई सी एन के मंच पर शिक्षा के वैश्विक पुनर्जागरण का यज्ञ

आज के संदर्भ में शिक्षा हमारी वैज्ञानिक व तकनीकी उपलब्धियों एवं प्रकृति मे मध्य आदर्शमयी समन्वय का नाम है। हम प्रकृति की देन हैं इसलिये प्रकृति के साथ जीवननिर्वाह ही हमारा व हमारी शिक्षा का एकमात्र उद्देश्य होना चाहिए। कभी कभी हमारी वाह्य व अंतर्दृष्टि विषम मोतियाबिंद का शिकार हो जाती है और ऐसी स्थिति में ‘कारण और परिणाम’ के मध्य जमी धुंध को साफ करने के लिए उन उलझी हुई परिस्थितियों को सुलझा कर  उनका ‘मंतव्य’ स्पष्ट कर हमें हमारे ‘गंतव्य’ तक सफलतापूर्वक पहुंचाने के लिए एक प्रायोगिक मार्गदर्शन…

Read More

प्राचीन गुरु व शिष्य, बनाम आधुनिक अध्यापक व विद्यार्थी

मोहम्मद सलीम खान, एसोसिएट एडिटर-आईसीएन सहसवान/बदायूँ । ईश्वर ने इंसान को दुनिया में रहने के लिए इंसान के रिश्ते और उसके रिश्तेदार बनाए हैं। प्रकृति की सबसे अनमोल धरोहर माता-पिता बनाए भाई बहन अन्य  रिश्तो की सौगात हमारी झोली में डाली। किसी भी व्यक्ति की कामयाबी पर उसके माता-पिता भाई-बहन वह अन्य  सगे संबंधी बहुत ज्यादा प्रसन्न होते हैं मगर इन रिश्तों के बीच में एक ऐसा रिश्ता भी है जो रिश्ता खूनी  व कुदरती  तो नहीं मगर प्रेम स्नेह व वफा की कसौटी पर सदियों से खरा उतरता आ…

Read More

हिंदी विश्‍वविद्यालय की बोधिसत्त्व बाबा साहेब ई-ज्ञान श्रृंखला में ‘आत्‍मनिर्भर भारत और हमारा दायित्‍व’ विषय पर व्याख्यान

डॉ. रिन्जु राय, एसोसिएट एडिटर-ICN  स्‍वयं की चेतना को विकसित करने से आएगी आत्‍मनिर्भरता – राज्‍यसभा सांसद शिव प्रताप शुक्‍ल वर्धा, 31 जुलाई 2020: महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्‍वविद्यालय वर्धा में बोधिसत्त्व बाबा साहेब ई-ज्ञान श्रृंखला के अंतर्गत आयोजित व्याख्यान श्रृंखला में गुरुवार, 31 जुलाई को राज्‍यसभा सांसद श्रीयुत शिव प्रताप शुक्‍ल जी ने ‘आत्‍मनिर्भर भारत और हमारा दायित्‍व’  विषय पर दिए व्याख्यान में कहा है कि स्‍वयं की चेतना को विकसित करने से ही आत्‍मनिर्भरता आएगी। श्रीयुत शुक्‍ल जी ने प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा घोषित आत्‍मनिर्भर भारत योजना…

Read More

हिंदी विश्‍वविद्यालय की बोधिसत्त्व बाबा साहेब ई-ज्ञान श्रृंखला में डॉ. कुलदीप चंद अग्निहोत्री जी का उद्बोधन

डॉ. रिन्जु राय, एसोसिएट एडिटर-ICN भारतीय सांस्‍कृतिक चेतना में कश्‍मीर’ विषय पर दिया व्याख्यान , @vcomgahv के माध्‍यम से फेसबुक लाइव स्‍ट्रीमिंग व यूट्यूब पर हुआ प्रसारण. जम्‍मू-कश्मीर सांस्‍कृतिक चेतना का गर्भगृह है – डॉ. कुलदीप चंद अग्निहोत्री वर्धा, 25 जुलाई 2020: महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्‍वविद्यालय वर्धा में बोधिसत्त्व बाबा साहेब ई-ज्ञान श्रृंखला के अंतर्गत आयोजित व्याख्यान श्रृंखला के सातवें व्याख्यान में गुरुवार, 23 जुलाई को हिमाचल प्रदेश केंद्रीय विश्‍वविद्यालय के कुलपति डॉ. कुलदीप चंद अग्निहोत्री जी ने ‘भारतीय सांस्‍कृतिक चेतना में कश्‍मीर’ विषय पर दिए व्याख्यान में कहा…

Read More

हिंदी विश्‍वविद्यालय की बोधिसत्त्व बाबा साहेब ई-ज्ञान श्रृंखला में आचार्य गिरीश चंद्र त्रिपाठी जी का उद्बोधन

डॉ. रिन्जु राय, एसोसिएट एडिटर-ICN डायस्पोरा ‘सतत विकास का भारतीय प्रारूप और स्‍वावलंबन की अवधारणा’ विषय पर दिया व्याख्यान  @vcomgahv के माध्‍यम से फेसबुक लाइव स्‍ट्रीमिंग व यूट्यूब पर हुआ प्रसारण. विकास का प्रारूप प्रकृति के नियम के अनुरूप हों – आचार्य गिरीश चंद्र त्रिपाठी वर्धा, 17 जुलाई 2020: महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्‍वविद्यालय वर्धा में बोधिसत्त्व बाबा साहेब ई-ज्ञान श्रृंखला के अंतर्गत आयोजित व्याख्यान श्रृंखला में गुरुवार, 16 जुलाई को उत्‍तर प्रदेश राज्‍य उच्‍च शिक्षा परिषद के अध्‍यक्ष तथा काशी हिंदू विश्‍वविद्यालय के भूतपूर्व कुलपति आचार्य गिरीश चंद्र त्रिपाठी…

Read More

डिजिटल लर्निंग–वक्त की जरूरत

डॉ. मंजू गुप्ता, शिक्षाविद नई दिल्ली। दुनिया भर में COVID-19 के भयंकर असर को देखते हुए, हर कोई इस महामारी से बचने के सभी एहतियाती उपाय कर रहा है। हम सामाजिक दूरी का पालन कर रहे हैं और अपने घरों की सीमाओं में सिकुड़ कर रह गये हैं।आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सभी बाजार, दफ्तर और स्कूल-कॉलेज बंद हैं।लॉकडाउन की आहट से ही लगने लगे रहा था कि अब पढ़ाई-लिखाई ठप्प हो जाएगी और बच्चों की सीखने की प्रक्रिया पर गहरा असर पड़ेगा । लेकिन वास्तव में ऐसा हुआ नहीं और इसके…

Read More

हिंदी विश्‍वविद्यालय की बोधिसत्त्व बाबा साहेब ई-ज्ञान श्रृंखला में पद्मभूषण श्री एम. का व्याख्यान

डॉ. रिन्जु राय, एसोसिएट एडिटर-ICN डायस्पोरा  शिक्षा में आध्यात्मिक मूल्य आवश्यक- श्री एम. वर्धा, 8 जुलाई 2020: महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय वर्धा की बोधिसत्त्व बाबा साहेब ई-ज्ञान श्रृंखला में आध्यात्मिक चिंतक पद्मभूषण श्री एम  ने ‘शिक्षा में आध्यात्मिक मूल्य और आज का परिप्रेक्ष्य’ विषय पर मंगलवार, 7 जुलाई को दिये व्याख्यान में कहा कि आध्यात्मिक क्षेत्र में भारत का सामना कोई अन्य देश नहीं कर सकता. आध्यात्मिक भारत का इतिहास दो हजार साल से भी अधिक समय का है. आज की शिक्षा को आध्यात्मिक बनाने की दिशा में पहल…

Read More

भारतवंशी प्रवासियों पर शोध कार्य के लिए रिन्जु राय को डॉक्टरेट उपाधि

रिन्जु राय ने ‘भारतीय डायस्पोएरा और हिंदी डायस्पोारिक सिनेमा: सामाजिक-सांस्कृ्तिक अंतरक्रियाओं का विश्लेषणात्मपक अध्ययन’ विषय पर सफलतापूर्वक शोध प्रबंध पूर्ण किया । वर्धा। महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय प्रवासन एवं डायस्पोरा अध्ययन विभाग देश दुनिया के प्रवासी अध्य यन व शोध का एक महत्वरपूर्ण संस्थादन है। इस विभागकी शोधार्थी रिन्जु राय ने भारतीय डायस्पोंरा और हिंदी डायस्पोरिक सिनेमा : सामाजिक-सांस्कृतिक अंतरक्रियाओं का विश्लेुषणात्मक अध्ययन विषय परअत्यन्त  महत्वंपूर्ण शोध कार्य पूर्ण किया है । डायस्पोरिक सिनेमा पर विशिष्ट् अध्ययन के अंतर्गत उन्होंने सामाजिक-सांस्कृततिक पक्षों तथा जीवन दृष्टि के पहलुओं को अपने…

Read More

डिजिटल लर्निंग–वक्त की जरूरत

डॉ. मंजू गुप्ता, शिक्षाविद नई दिल्ली। दुनिया भर में COVID-19 के भयंकर असर को देखते हुए, हर कोई इस महामारी से बचने के सभी एहतियाती उपाय कर रहा है। हम सामाजिक दूरी का पालन कर रहे हैं और अपने घरों की सीमाओं में सिकुड़ कर रह गये हैं । आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सभी बाजार, दफ्तर और स्कूल-कॉलेज बंद हैं । लॉकडाउन की आहट से ही लगने लगे रहा था कि अब पढ़ाई-लिखाई ठप्प हो जाएगी और बच्चों की सीखने की प्रक्रिया पर गहरा असर पड़ेगा । लेकिन वास्तव में ऐसा…

Read More