दि हाफ वर्ल्ड : तलाश जड़ों की

लखनऊ, दिनांक 11.09.2022. : क्या सृष्टि ने नर और नारी को रचते समय नारी को कुछ कम दिया है? क्या प्रकृति ने दोनों के मध्य संरचनात्मक बंदरबाँट की है? क्या यह विभेद धार्मिक है, या यह ऐतिहासिक है या यह अंतर राजनीतिक है? यह मानवीय प्रवृत्ति है अथवा कोई सोचा समझा षड्यंत्र? जब हम समाज और नारी का कोई समीकरण समझने का प्रयास करते हैं तो अधिकांशतः ढाल पुरुष की ओर सरकती हुई ही क्यों प्रतीत होती है? ये ढेर सारे प्रश्न एक ऐसे मंच की रचना अनायास ही करते…

Read More