एसटीपीएल की 1320 मेगावाट की बक्सर थर्मल पावर परियोजना के लिए आवधिक ऋण का वित्तीय क्‍लोजर करार

चन्द्रकान्त पाराशर, एडिटर, ICN हिन्दी
शिमला : 17 मार्च, 2021 बिहार के बक्सर जिले के चौसा में एसजेवीएन लिमिटेड की पूर्ण स्‍वामित्‍व वाली कंपनी एसजेवीएन थर्मल प्रा. लिमिटेड द्वारा निष्‍पादित 1320 मेगावाट की बक्सर थर्मल पावर परियोजना के लिए 8448.46 करोड़ रुपए के आवधिक ऋण के लिए एसटीपीएल और कंसोर्टियम ऑफ लेंडिंग बैंक/वित्‍तीय संस्‍थान(एफआई) के मध्‍य पटना में एक समारोह के दौरान हस्ताक्षर किए गए। एसजेवीएन के अध्‍यक्ष एवं प्रबंध निदेशक, श्री नंद लाल शर्मा की गरिमामयी उपस्थिति में संबंधित पार्टियों के मध्‍य ऋण समझौता करार किया गया। वित्तीय क्‍लोजर समारोह में एसजेवीएन की निदेशक (कार्मिक), गीता कपूर, निदेशक (वित्त), ए.के.सिंह, निदेशक(विद्युत), सुशील शर्मा तथा एसटीपीएल के सीईओ, संजीव सूद भी उपस्थित थे।
एसटीपीएल के मुख्‍य वित्‍त अधिकारी, एस.एल.शर्मा ने कंसोर्टियम बैंकों/एफआई के साथ एसटीपीएल की ओर से समझौते पर हस्ताक्षर किए, जिसमें भारतीय स्टेट बैंक, केनरा बैंक तथा आईआईएफसीएल शामिल थे। एसबीआई कैपिटल मार्केट्स लिमिटेड इस लेनदेन के लिए कंपनी के एकमात्र वित्तीय परामर्शदाता एवं ऋण व्यवस्थापक थे। ऋण समझौते पर हस्ताक्षर करने से प्रमोटर द्वारा प्रभावित इक्विटी के अतिरिक्‍त निर्माण गतिविधियों के वित्त-पोषण का मार्ग प्रशस्त होगा।
इस अवसर पर उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए एसजेवीएन के अध्‍यक्ष एवं प्रबंध निदेशक, श्री नन्‍द लाल शर्मा ने राष्ट्र के समग्र विकास के लिए ऊर्जा की आवश्यकता तथा एसजेवीएन के योगदान पर प्रकाश डाला।  उन्होंने कहा कि 2016.5 मेगावाट की अपनी स्थापित क्षमता तथा 2040 तक अपने पोर्टफोलियो में 25000 मेगावाट की महत्‍वाकांक्षी योजना के साथ एसजेवीएन देश में एक प्रमुख विद्युत कंपनी के रूप में उभरा है। उन्होंने आगे कहा कि जून 2023 में 1320 मेगावाट बक्सर थर्मल पावर प्रोजेक्ट के कमीशन होने से बिहार में बिजली की कमी को काफी हद तक पूरा कर लिया जाएगा तथा राज्य के लोगों की सामाजिक आर्थिक स्थिति सुदृढ़ होगी। उन्होंने इस परियोजना के निष्पादन के लिए विशेष रूप से राज्य सरकार से प्राप्त सहयोग एवं समर्थन के लिए बिहार के माननीय मुख्‍यमंत्री, श्री नीतिश कुमार तथा राज्य सरकार के अधिकारियों का धन्यवाद किया। श्री शर्मा ने एसजेवीएन के प्रति अपना विश्वास व्यक्त करने तथा बक्सर परियोजना के लिए आवधिक ऋण प्रदान करने के लिए कंसोर्टियम बैंकों का आभार व्यक्त किया। एसटीपीएल के सीईओ, श्री संजीव सूद ने आश्वासन दिया कि जून 2023 में इस परियोजना को परिकल्पित कमीशनिंग के अनुसार पूरा कर लिया जाएगा।
बक्सर थर्मल पावर परियोजना को बिहार सरकार द्वारा निष्पादन के लिए एसजेवीएन को सौंपी गई है। ईपीसी संविदा जून 2019 में मैसर्स एलएंडटी को प्रदान किया गया तथा परियोजना के सभी घटकों का कार्य पूर्ण रूप से प्रगतिरत है। इस परियोजना से प्रतिवर्ष 9828 मिलियन यूनिट बिजली का उत्पादन होगा। बिहार सरकार के साथ विद्युत क्रय समझौते के अनुसार, परियोजना से उत्पादित बिजली का 85% बिहार राज्य को दिया जाएगा तथा 15% बस बार दर पर अन्य विद्युत क्रयदाताओं को बेचा जाएगा। इस परियोजना से रोजगार के अवसर पैदा होंगे, बुनियादी ढांचे के विकास को बढ़ावा मिलेगा और परियोजना क्षेत्र में एवं पूरे राज्‍य में वृहद स्‍तर पर सामाजिक-आर्थिक खुशहाली के एक नए युग का सूत्रपात होगा।
एसजेवीएन की वर्तमान संस्‍थापित क्षमता 2016.51 मेगावाट है तथा लगभग 9000 मेगावाट की परियोजनाओं पर कार्य चल रहा हैं। एसजेवीएन ने ऊर्जा उत्‍पादन के विभिन्‍न सेक्‍टरों में अपनी उपस्थिति दर्ज की है जिसमें जल, पवन, सौर सेक्‍टर शामिल है। कंपनी एनर्जी ट्रांसमिशन के क्षेत्र में भी अपनी उपस्थिति बनाए हुए है।

Share and Enjoy !

0Shares
0 0 0

Related posts